नीता अंबानी, जो कभी, 800 रुपयों के लिए एक शिक्षक के रूप में काम करती थीं, अब हैं भारत की सबसे अमीर महिला

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी और नीता अंबानी की शादी को 36 साल हो चुके हैं। इस जोड़े का विवाह 8 मार्च 1985 को हुआ था।

उसने अपने इंस्टाग्राम पर जोड़े के साथ एक तस्वीर साझा की और लिखा- एक दूसरे के पूरक युगल की सराहना करता है। हम आपको स्वास्थ्य, खुशी और एक साथ होने की कामना करते हैं क्योंकि आप दादाजी के इस अद्भुत नए अध्याय का आनंद लेते हैं।

अंबानी परिवार की बहू बनने से पहले, नीता एक स्कूल में केवल 800 रुपये में एक शिक्षक के रूप में काम करती थी। वह शास्त्रीय नृत्य भी पसंद करती थीं और इसमें से अपना करियर बनाना चाहती थीं। नीता अंबानी ने एक साक्षात्कार में बताया था कि कैसे वह मुकेश अंबानी से मिलीं।

“मैंने अपने ससुर धीरूभाई अंबानी और सास कोकिला बेन को एक डांस इवेंट में देखा था।” उन्हें मेरा डांस बहुत पसंद आया था। उसने सोचा कि इतना बड़ा घर होने के बाद मुझे नौकरी नहीं मिल पाएगी। यह पहली बार नहीं है जब उसने मुकेश के लिए हां कहा है। हम कई बार मिले। मुझे मुकेश का शांत स्वभाव पसंद था लेकिन मुझे डर था कि शादी के बाद मेरी नौकरी छूट जाएगी।

मुकेश-नीता ने लव मैरिज के साथ ऑरेंज मैरिज की थी। एक मध्यमवर्गीय परिवार की, नीता, मुकेश को देखकर हैरान रह गई जब वह पहली बार उसके घर गयी। दरअसल, घर का दरवाजा मुकेश ने खोला था। सफेद शर्ट और काले रंग की पेंट पहने, मुकेश बहुत सरल दिख रहे थे, नीता को अपनी आँखों पर विश्वास नहीं हो रहा था। उसने सोचा कि एक अमीर आदमी का बेटा इतना सरल हो सकता है। और मुकेश भी उनको पसंद आ गए और दोनों ने शादी कर ली.

Related Articles

Back to top button