New Indian Parliament कैसी होगी, कितना खर्च आएगा, और कौन बनाएगा

New Indian Parliament का 10 दिसंबर को प्रधानमंत्री Narendra Modi ने उद्घाटन किया है,

देश की आजादी के बाद अपना एक नया संसद भवन बनने जा रहा है.

अब सवाल ये है कि नया Parliament कब तक बनेगा कितना खर्चा आएगा

जो New Indian Parliament है कहते है कि इसके ऊपर पूरा जो करीब आठ सौ बासठ करोड़ की बोली लगाकर Tata Construction को ये मिला है.

लेकिन इसकी पूरी जो लागत आएगी वो करीब नौ सौ इकहत्तर करोड़ रुपए की आएगी.

और अंदाजा ये है कि अक्टूबर 2022 यानी अभी से करीब दो साल के अंदर अंदर ये बिल्डिंग बनकर तैयार हो जाएगी.

New Parliament

क्यों New Indian Parliament बनाने की जरूरत थी

असल में वक्त के हिसाब से बहुत सारी चीज़ें बदली

और ये New Indian Parliament जो नया बन रहा है इसको आगे आने वाले सौ साल के हिसाब से ध्यान में रखकर बनाया जा रहा है.

आने वाले सौ साल में बहुत सारी चीज़ें बदलेंगी technology वैसे ही तेजी से बदल रही है।

जो Lower house है वो Lok Sabha है, upper house है जो Rajya Sabha है,

तो अभी Rajya Sabha के हमारे यहाँ 543 MP होते हैं जो member of Parliament चुनकर आते हैं. उनके हिसाब से सीट है.

Rajya Sabha के लिए अलग सीट है, तो फिलहाल जो ये New Indian Parliament नया बनाया जा रहा है.

नए बिल्डिंग में 888 Lok Sabha के member और 384 Rajya Sabha के member बैठेंगे

एक खबर ये भी है कि यहाँ पे बेसमेंट और ऐसी चीजें भी बनाई जा रही है.

और ये जो parliament लोक सभा में के जो MP बैठेंगे इस बार वो जो नया parliament बन रहा है वो basement पे होगा।

ताकि कभी कोई इस तरह के हमले हो या nuclear attack हो तो उसमें आपकी सुरक्षा हो सके. तो उन चीजों को भी ध्यान में रखकर ये New Indian Parliament बनाई जा रही है.

New Parliament

कई बार joint session होता है Lok Sabha Rajya Sabha के दोनों सारे लोग एक साथ बैठते है. तो उसके हिसाब से देखते हुए.

अगर ऐसा joint session हुआ बैठक हुई, तो total नए building में एक साथ 1272 बारह सौ बहत्तर सांसद एक साथ बैठ सकेंगे। इतनी जगह लेकर New Indian Parliament बनाई जा रही है.

इसमें एक खास चीज और भी है, कि इस पूरे नए बिल्डिंग में सभी MPs के लिए अपने अपने दफ्तर दिए जाएँगे।

तो मान लीजिएगा लोक सभा के 543 MP अभी है. तो उन सबके लिए दफ्तर होंगे।

लेकिन भविष्य के लिए ये भी माना जा रहा है, कि जिस तरीके से देश की आबादी बढ़ रही है.

हो सकता है जो constituency है लोक सभा की सीटों की तादाद जो है. वो बढ़े जाये तो.

इसीलिए अगले सौ साल में ये मानकर चला जा रहा है कि 888 MP अगर आए तो आराम से बैठ सके.

New Parliament

इसके अलावा जो MP के दफ्तर होंगे और MP के में इसको एक तरह से paperless दफ्तर बनाने की भी तैयारी की जा रही है.

मतलब MPs को और ministers को उनको सारे digital सुविधाएँ दी जाएँगी और वो अपने काम paperless तरीके से कर सकेंगे

Hi-Fi Technology के साथ ये नई बिल्डिंग बनने जा रही है. इनका अपना एक constitution hall होगा, जिसमें खास मौके पे जो President और बाकी सब जो आते हैं उनके लिए.

MPs के लिए बैठने के लिए अलग से hall दिया गया बड़ी सी library बननी है. अलग अलग कमिटियों के लिए कमरे बनने है.

parking की बहुत सारी जगह इस New Indian Parliament में इंतज़ाम किए जा रहे हैं.

64500 वर्ग मीटर पर ये पूरा project बनकर तैयार हो रहा है.

यहाँ पे कंस्ट्रक्शन का काम शुरू हो गया था. चार दिसंबर की बात है शाम छह बजे के करीब धुंआ उठना शुरू हुआ था.

तो पता चला कि सुप्रीम कोर्ट में अभी दिल्ली में कंस्ट्रक्शन के काम पे रोक लगी हुई है पॉल्यूशन की वजह से

यहाँ पे सारी labour से लेके सब कुछ तैयार है लेकिन Supreme Court का फैसला आएगा उसके बाद ये तय होगा कि यहाँ पे काम कब शुरू होगा।

ये जो पूरा इलाका है उसको लेकर संसद की इस नई इमारत के अलावा एक नया central secret बनाने की बात हो रही है. और ये चीजें जो central vista project है उसी के तहत आएगी।

पुराणी Parliament जो है यहाँ पे तीन बड़ी important buildings है, शास्त्री भवन है, इसके अलावा कृषि भवन है, उद्योग भवन है, कहते है ये सारे बिल्डिंगों को तोड़ दिया जाएगा।

और ये पचहत्तर साल जब आजादी के होंगे अगले दो तीन साल के अंदर तो कोशिश यही कि उस पचहत्तर साल के पूरा होने के मौके पर देश को अपना बनाया हुआ New Parliament मिले और उसमें सारे सांसद बैठे।

New Parliament

New Indian Parliament बिल्डिंग अच्छी, खूबसूरत, सुरक्षित, बने अच्छी बात है.

लेकिन इस संसद भवन में बैठकर देश की जनता के लिए जो काम होने चाहिए वो भी उसी ईमानदारी से होने चाहिए।

ताकि देश आगे बढ़े देश के लोग आगे बढ़े गरीबी खत्म हो,

भुखमरी खत्म हो, बेरोजगारी खत्म हो, पढ़ाई लिखाई की तरफ ध्यान जाए,

हेल्थ सेक्टर अच्छा हो, लोगों को चिकित्सा बेहतर मिले, लूट खसोट कम हो,

इस संसद भवन के बनाने के बाद यहाँ जो बैठे हुए लोग हैं वहाँ पे ईमानदार लोग आए, कोई criminal ना आए.

क्योंकि हमने अक्सर देखा बहुत सारे ऐसे MP जो अपने धन बल के ऊपर जीत के आते है, और संसद भवन तक पहुँच जाते हैं.

जिन्हें कायदे से जेल में होना चाहिए, वो लाल बत्ती की गाड़ियों में घूमते हैं,

जिन्हें कायदे से police को पकड़ लेना चाहिए police वाले उनकी सुरक्षा में लगे होते हैं.

तो ये सारी चीज़ें भी इस नई इमारत के साथ पुरानी तरह से खत्म हो जाए.

एक अच्छा भविष्य एक अच्छा देश हो यही दुआएँ हैं.

ये भी पढें विजय पलांडे 3 कतल करने बाद भी कैसे पोलिस को और अदालत को चकमा देता है

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker