भारत के यह 5 शहर, जिनके नाम राक्षसों के नाम पर रखे गए!

मैसूर – मैसूर कर्नाटक का एक ऐतिहासिक शहर है। शहर का नाम महिषासुर नामक एक राक्षस के नाम पर पड़ा। महिषासुर के समय में इस शहर को महिष-उरू कहा जाता था। बाद में महिशुरु और बाद में कन्नड़ में इसे मैसूर कहा गया। यह शहर अब मैसूर के नाम से जाना जाता है।

जालंधर – पंजाब के जालंधर शहर का नाम राक्षस ‘जालंधर’ के नाम पर रखा गया है। प्राचीन काल में, यह शहर ‘जालंधर राक्षस’ की राजधानी के रूप में जाना जाता था।

गया – माना जाता है कि बिहार के गया शहर का नाम राक्षस ‘गायसूर’ के नाम पर रखा गया था। ऐसा कहा जाता है कि जब राक्षस स्वर्ग में पहुंचने लगे, तब भगवान नारायण ने ब्रह्माजी को उन्हें रोकने के लिए कहा और ज्ञानसूर के शरीर से यज्ञ करने के लिए कहा। कहा जाता है कि पूरा शहर इस राक्षस का शरीर है।

पलवल – पलवल हरियाणा का एक प्रमुख शहर है। इसका नाम दानव ‘पालंबासुर’ के नाम पर रखा गया है। प्राचीन काल में, इस शहर को पालंबरपुर भी कहा जाता था। कालांतर में नाम बदलकर पलवल कर दिया गया।

तिरुचिराप्पल्ली – तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली शहर का नाम राक्षस ‘थिरिसिरन’ के नाम पर रखा गया है। ऐसा कहा जाता है कि राक्षस थिरिसिरन ने इस शहर में भगवान शिव की तपस्या की थी। इस कारण से, शहर का नाम बदलकर थिरि-सिकरपुरम कर दिया गया, और अब इसे तिरुचिरापल्ली के नाम से जाना जाता है।

Related Articles

Back to top button