कुत्ते का रोना अशुभ क्यों माना जाता है, क्या सच में देता है मौत का संकेत

अक्सर आपने देखा होगा कि लोग कुत्तों को रोता देखकर इसे भगा देते हैं, ऐसा इसलिए क्योंकि हिंदू धर्म के अनुसार रात में कुत्ते का रोना अशुभ होता है,

लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि कुत्तों के रोने को अशुभ क्यों माना जाता है, और कुत्ते रोते क्यों हैं, तो दोस्तों आज हम आपको बताएंगे की कुत्ते के रोने को अशुभ क्यों माना जाता है, तो आइए जानते हैं इसका कारण,

ये भी पढें Chauri chaura incident क्यों हुआ ये कांड, क्या है इसके पीछे की वजह.

क्यों कुत्ते का रोना अशुभ माना जाता है

शास्त्रों के अनुसार कुत्ते की सिक्स्थ सेन्स की वजह से मनुष्य पर जब किसी की कोई भारी विपदा आने वाली होती है, तो कुत्तों को सिक्स्थ सेन्स की सहायता से पहले ही पता हो जाता है, कि मनुष्य को किसी तरह की कोई विपदा का सामना करना पड़ सकता है,

और इसलिए वो रोना शुरू कर देता है जिस वजह से कुत्ते का रोना अशुभ माना जाता है, कुत्ते के रोने से मनुष्य इस बात को जान लेता है, कि कहीं ना कहीं कुछ बुरा होने वाला है,

ज्योतिषों का कहना है कि कुत्ते सबसे ज़्यादा तब रोते हैं जब उनके आस पास कोई आत्मा होती है, या फिर उन्हें कोई आत्मा दिखाई देती है, और वो ये संदेश देते हैं, कि वो भी सचेत हो जाए क्योंकि उनको एक आत्मा दिखाई दे रही है,

कुत्ते का रोना

मान्यता है कि अगर घर के सामने घर की ओर मुँह करके कोई रोए तो उस घर पर किसी प्रकार की विपत्ति आने वाली होती है, या इसे घर के किसी सदस्य की मौत का संकेत माना जाता है,

अगर कुत्ता घर के सामने सुबह के समय यदि रोए तो उस दिन कोई भी महत्वपूर्ण कार्य नहीं करना चाहिए,

तो वहीं कुत्ता यदि किसी मकान की दीवार पर रोता हुआ पंजा मारता हुआ दिखाई दे तो समझा जाता है कि उक्त घर में चोरी हो सकती है, या किसी अन्य तरह का संकट आ सकता है,

ये भी पढें Titanic Ship कैसे डूब गया, और Titanic Ship किसने बनाया था.

बताते चले व्यक्ति अगर किसी के अंतिम संस्कार से लौट रहा है, और कुत्ता उसके साथ में भी आया है तो उस व्यक्ति की मृत्यु की आशंका रहती है, और उसे कोई बड़ी दुर्घटना का सामना करना पड़ सकता है,

माना जाता है कि पालतू कुत्तों के आँसू आए और वो भोजन करना त्याग दे तो उस घर पर संकट आने की सूचना है,

शगुन शास्त्र के अनुसार किसी कार्य से बाहर जाते समय अगर कुत्ता आपकी ओर देखकर भोके तो इसका मतलब है, आप किसी विपत्ति में फसने वाले हैं, ऐसे में उक्त जगह नहीं जाना ही उचित माना जाता है,

घर से निकलते समय यदि कुत्ते अपने शरीर को कीचड़ में सना हुआ दिखे, और कान फड़फड़ाए तो ये बहुत ही अपशगुन है, मान्यता है कि अगर कुत्ता अपने घुटने सूँघे तो आपको कोई लाभ होने वाला है,

कई बार कुत्ते आपके जूते चप्पल लेकर भाग जाते हैं, यदि ऐसा आपके साथ भी होता है तो आपको सावधान होने की आवश्यकता होती है, क्योंकि कुत्ते का जूते चप्पल लेकर भागना हमें आर्थिक रूप से किसी बड़े नुकसान का संकेत देता है,

ये भी पढें कैसे इस शख्स ने 31 साल तक हमारे देश के सभी अदालतों को चुना लगाया।

वही वैज्ञानिकों की माने तो कुत्ता जब भी अकेला होता है, तो वो जोर जोर से रोने लगता है ताकि दूसरे कुत्ते उसकी आवाज़ सुनकर वो भी रोने लगते हैं, जिससे उन्हें लगता है कि वो अकेला नहीं है, दूसरे कुत्ते भी है,

और कई जानकारों का कहना है कि कुत्ते ऐसा करके अपनी लोकेशन दूसरे कुत्तों को बताते है

Related Articles

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker